Beauty tipsfoodHealthHealth and Fitness

विटामिन ‘ए’ की कमी से होने वाले रोग: Vitamin A Ki Kami Se Hone Wale Rog

विटामिन ए क्या है? (What is vitamin A)?

विटामिन ‘ए’ आपके आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। वे पदार्थों का एक समूह है जिनका सेवन कम मात्रा में किया जाता है जो आपके संपूर्ण स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते हैं।  विटामिन ए विशेष रूप से स्वस्थ आंखों, अच्छी दृष्टि, स्वस्थ त्वचा को बनाए रखने के लिए आवश्यक है और विटामिन ‘ए’ आपको संक्रमण से लड़ने में मदद करता है।

विटामिन ‘ए’ की कमी से होने वाले रोग: Vitamin A Ki Kami Se Hone Wale Rog

विटामिन दो तरह के होते हैं:

1) water soluble vitamin

2) Fat soluble vitamin

विटामिन ‘ए’ फेट सॉल्युबल विटामिन होता है। इसका मतलब यह है कि हमारे शरीर के अंदर फेट की जो लेयर होती है उस में स्टोर किया जा सकता है।

विटामिन ए क कमी के लक्षण  (symptoms of vitamin A)

• विटामिन ‘ए’ की कमी का सबसे पहला लक्षण आंखों की रोशनी का कम होना है।

• आंखों में जलन या सूजन होना।

• शरीर  के विकास का अवरुद्ध होना।

• त्वचा का खुरदुरा या रूखा होना।

• आंखों से आंसू न निकलना।

• आराम करने पर भी अधिक थकावट महसूस होना।

• होठों का फटना।

• मुंह में दाने बनना।

• श्वास नली में संक्रमण होना।

• चोट लगने पर घाव भरने में समय लगना।

विटामिन ए की कमी से होने वाले रोग

(Vitamin A Deficiency Diseases)

विटामिन ए की कमी से लोगों को कई समस्या हो सकती है जैसे कि- अंधापन आना यहाँ तक की इंसान रतोंधी का शिकार तक हो सकता है, एनीमिया की बीमारी, इम्युनिटी सिस्टम (immunity system) कमजोर होना, पेशाब की नली में संक्रमण और श्वसन प्रणाली में संक्रमण हो सकता है।

विटामिन ‘ए’ की कमी से चर्म रोग का खतरा भी बढ़ जाता है। गुर्दे में पथरी बनने की समस्या हो सकती है, बाल जड़ने लगते है, नाखुनो का टूटना शुरू हो जाता है, संक्रामक बीमारियों के चपेट में आने का खतरा बढ़ जाता है, दांतों की बीमारियां होने लगती है, कान में विकार पैदा होने लगते हैं, इस कर्मी का खतरा होता है, घुटने के दर्द और पेरो से सम्बंधित बीमारिया हो सकती है और बाजपन भी हो सकता है।

विटामिन ‘ए’ की कमी से होने वाले रोग: Vitamin A Ki Kami Se Hone Wale Rog

विटामिन – ‘ए’ के स्रोत

• दूध

• गाजर

• पालक

• पपीता

• दही

• सोयाबीन

• शकरकंद

• चुकंदर

• शलजम

• आम

• तरबूज

• चीकू

• राजमा

• पत्तेदार हरी सब्जियां

• बटर

• अंडा

• मछली

• मीट

• लिवर

विटामिन ए की कमी के कारण

विटामिन-ए की कमी होने का सबसे बड़ा कारण होता है। कुपोषण यदि आप अपने आहार में डेयरी प्रोडक्ट कम लेते हैं। तो इससे विटामिन ए की कमी होने का खतरा रहता है।

पशुओं में मिलने वाले खाद्य पदार्थों और और कुछ सब्जियों में विटामिन-ए प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। यदि आप इस तरह की चीजें नहीं खाते हैं तो इससे आपके शरीर में में का खतरा बढ़ जाता है।

मा के दूध में नवजात शिशु के लिये विटामिन-ए की मात्रा पर्याप्त होती है। जो माताए अपने बच्चे को स्तनपान नही कराती है यां नही करा पाती है तो उन बच्चों में विटामिन-ए की कमी का खतरा बढ़ जाता है।

गर्भवती यां स्तनपान कराने वाली महिलाओं को यदि विटामिन-ए की कमी है तो possibilities होती है की new born baby को भी यह समस्या हो सकती है।

बार बार पेशाब जाने से भी शरीर में विटामिन की कमी होती है।

विटामिन ए की कमी को कैसे पूरा करें

अगर आपको विटामिन-ए की कमी है तो आपको उन चीजों का सेवन करना चाहिए जिसमें विटामिन ए भरपूर मात्रा में हो जैसे कि मक्खन पनीर इत्यादि।

विटामिन ए का सबसे अधिक वाला स्त्रोत cod liver oil है विटामिन A की 100g मात्रा 100000 IU होता है। जिसका सेवन करके विटामिन ए की कमी को पूरा किया जा सकता है।

ऊपर विटामिन-ए के स्रोत के बारे में हमने संपूर्ण जानकारी दी है उन सभी चीजों को अपने दैनिक आहार में शामिल करके विटामिन-ए की कमी को पूरा कर सकते हैं।

अस्वीकरण: ऊपर बताई गई समग्री सिर्फ जानकारी के हेतु से है इसे रोजिन्दा जीवन में अपनाने से पहले अपने डॉ. से सलाह ले ROYGUDDU.IN इसकी कोई पुष्टि नही करता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *